Header Ads

Breaking News
recent

लहसुन पुरुषो के लिए यौन शक्ति दायक है ।



लहसुन पौरुष बल को बढ़ाता है साथ ही शरीर को पुष्ट करता है । घरेलू नुस्खे

लहसुन पुरुषो के लिए यौन शक्ति दायक है ।यह किसी भी किरने ( पसारी )के दुकान पर मिला आसानी से मिलजाता है । मर्दाना ताक़त, जोड़ो का दर्द , (सन्धिवात ), सायटिका, हिचकी, श्वास, सिर दर्द, अपस्मार, गुल्म, उदर रोग, प्लीहा, कृमि, शौथ, अग्निमान्ध, पक्षाघात, खांसी, शूल आदि के लिए उत्तम औषिधि – लहसुन पाक। लहसुन पाक शीतकाल में पोष्टिक आहार के रूप में वाजीकारक योग हैं। विवाहित पुरुषों के लिए यौन शक्तिदायक वृद्धक तो होता ही है साथ ही शरीर की सप्त धातुओं को पुष्ट और सबल करके शरीर को सुडौल और बलवान बनाने वाला भी है। आइये जाने लहसुन पाक तैयार करने की विधि।

 लहसुन पाक तैयार करने की विधि - 100 ग्राम लहसुन की कलियोँ को छिलका अलग करके छोटे-छोटे टुकड़े कर लें।और एक लीटर दूध में एक गिलास पानी डाल कर लहसुन के सभी टुकड़े डाल दें और आग पर गरम होने के लिए रख दें। जब दूध गाढ़ा हो जाये और तब उतार कर ठंडा कर लें और उसे पीसकर लुगदी बना लें।फिर शुद्द देशी घी में इस लुगदी को धीमी आंच पर पकाये । जब लाल हो जाये तब इसे उतार लें । अब इसमें आवश्यकतानुसार शक्कर की चाशनी तैयार करें। भुनी हुई लुगदी और 1 ग्राम केशर , 2 ग्राम लौंग , 2 ग्राम जायफल , दालचीनी 2 ग्राम , और सौंठ 5 ग्राम इन सबको बारीक़ पीसकर चाशनी में डाल दें और भली-भांति मिला लें और थाली में फैला कर जमा लें अब आपका लहसुन पाक तैयार हो गया । प्रयोग विधि यह लहसुन पाक रात को सोने से पहले एक चम्मच गुनगुने दूध के साथ कम से कम दो महीने तक सेवन करे । इसके सेवन से जोड़ो का दर्द , सायटिका , हिचकी , श्वास , सिर दर्द, गुल्म , उदर रोग , प्लीहा ,कृमि ,शौथ , अग्निमान्ध, पक्षाघात, खांसी, शूल, आदि अनेक रोगों को निरोगी बनाने में सहायक होता है तथा स्नायविक संस्थान की कमजोरी, व् यौन शिथिलता दूर करके बल प्रदान करता है। एसे रोगों से ग्रस्त रोगी के अलावा यह लहसु पाक प्रौढ़ एवम वृद्ध स्त्री पुरुषों के लिए शीतकाल में सेवन योग्य उत्तम योग है।

इसका सेवन यथा सम्भव गर्मी के मौसम में न करे ।
Blogger द्वारा संचालित.